Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
उम्मीदों का चिराग
उम्मीदों का चिराग
★★★★★

© Rashi Singh

Others

1 Minutes   1.4K    7


Content Ranking

जोड़-जोड़ तिनका एक आशियाँ बनाया था

उम्मीदों के चिरागों से उसको मिलकर सजाया था ,

झौकों-तूफानों से मिलकर हमने बचाया था

हर दर्द और गम को भुलाने की पाकीज़ा जगह था ,

क्या साथ छोडकर इस मोड़ पर उनको जाना था

रिश्ता हमारा सात जन्मों का नहीं सदियों का नाता था ,

अस्सी वर्ष की उमर में मरने पर एक पति ने अर्थी पर

लेटी अपनी हमउमर पत्नि से यह सब कहा था !

उम्मीद चिराग पति

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..