Richa Baijal

Others


4  

Richa Baijal

Others


डिअर डायरी डे 19 :डिप्रेशन

डिअर डायरी डे 19 :डिप्रेशन

2 mins 203 2 mins 203


आज 12 तारीख हो गयी है . जिनको कुछ भी असुविधा नहीं है ; वो तो जैसे अब लॉक डाउन को आगे बढ़ाने के पक्ष में हैं . देश के 6 राज्यों में कोरोना पॉजिटिव केस आ रहे हैं ; हर दिन कुछ नए और ये राज्य हैं : राजस्थान ,गुजरात , मध्यप्रदेश , महाराष्ट्र , दिल्ली ,उत्तरप्रदेश . तो मुमकिन है यहाँ के लोग आगे भी घरों में ही बंद रहेंगे . मैंने कर्नाटक का नाम लिया था ; जहाँ एक नंबर पर आकर कोरोना पोसिटिवेस की संख्या रुक गयी थी (181 ) ,आज वह 226 पेशेंट्स है . लगभग 150 लोग ख़तम हो चुके हैं और 208 ठीक हैं ;बाकी का इलाज चल रहा है .


ये क्वारंटाइन और आइसोलेशन के बाद घर की दाल- रोटी में स्वाद आ रहा है . लेकिन हम ये तो नहीं कह रहे कि चाट नहीं खाएंगे ;बिलकुल खाएंगे . ठंडी हवा का मेरे गालों को छूना; याद आ रहा है . मैं उन लोगो की बात नहीं कर रही ,जो तफरी करने अपनी गली की सड़कों पर निकल आते हैं . कुछ लोग गली -क्रिकेट खेल रहे हैं . और कुछ बिलकुल मर्यादा से घर के अंदर शांत बैठे हैं . फिर जो कोरोना से बच जायेंगे ,वो ये कह रहे होंगे कि हमने को कुछ भी अनुपालना नहीं की, फिर भी देखो स्वस्थ हैं . घर में घुस कर ही रहना कहीं न कहीं आपके विश्वास को कम करता है . क्यूंकि जब हम लोगों से बात करते हैं , हम उनके दिमाग की सोच को समझते हैं और उस हिसाब से बात करते हैं ,व्यव्हार करते हैं . लेकिन जब हम बात ही नहीं करेंगे , तो हम समझ ही नहीं सकते कि क्या हो रहा है बाहर की दुनिया में . जब सामान्य माहौल में एक व्यक्ति घर ही में रहता है और किसी से बात नहीं करता ,तब हम कह देते हैं कि ये तो डिप्रेशन में है . तब आज हम सभी अपने लिए क्या कहेंगे ?

कहीं से भी आपके 'सामाजिक जानवर ' होने का कारण तो प्रकृति को चाहिए ही , सोचियेगा इस पर कुछ क्षण !!




Rate this content
Log in