Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra
Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra

नूपुर Noopur शांडिल्य Shandilya

Children Stories Fantasy Inspirational


4  

नूपुर Noopur शांडिल्य Shandilya

Children Stories Fantasy Inspirational


देखो वो बादल

देखो वो बादल

1 min 443 1 min 443

चलो

इस बादल को

साथ ले चलते हैं।

छोड़ कर जाने को

मन नहीं करता।


इसे सिरहाने रख कर

तारे देखते-देखते

सो जाएंगे हम !

ये बनेगा हमारा

नरम..मुलायम तकिया।


इसे लगा कर सोने से

हो सकता है,

मज़ेदार सपने आएं !


जिन सपनों में

हम इस बादल पर

हो कर सवार

दुनिया घूम आएं !


इंद्रधनुष का झूला

झूल पाएं !

चाँद का खिलौना

संग ले आएं !


मुट्ठी भर तारे

बटोर लाएं !

देखें तो सही

बादलों के पार से

दुनिया दिखती है कैसी ?


अच्छा फिर भी

मन ना भरे,

तो बुढ़िया के बाल जैसे

इस गुलाबी बादल को

गप से

मुंह में रख लेंगे !


मिठास को घुलने देंगे !

और अगर ये करना भी

ठीक ना लगे..

तो रुई के फाहे से

इस बादल को

मरहम की तरह

हौले से रख देंगे

किसी की गुम चोट पर

शायद उसे आराम आ जाए।


चलो ना !

ले चलते हैं

अपने साथ

प्यारा-सा ये बादल।


Rate this content
Log in