Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Abhinav Kumar

  Literary Colonel

"वो" भी "बारिश" के जैसे हैं

Romance

"वो"भी "बारिश" के जैसे हैं जो बस रंगत बदलता है ना हम मायूस होते हैं ना उनका दिल पिघलता है।

1    170 0

तलाश

Romance

उससे वस्ल की उम्मीद ख़्वाबों में खोती गई

1    33 0

चुनाव, बजट और हम

Drama

जनता की लेकिन समस्या विकट है।

1    4 0

वो कौन थी

Romance

उसकी एक नज़र ने रोका था समय-प्रवाह होता था उसके पास ही मिलने की रहती चाह

1    108 4

कट रही है ज़िन्दगी!

Others

इत्तेफ़ाक़ भी नही होते आजकल पूरे ईमान से...

1    7.0K 7

दर्द की दास्तान

Drama Tragedy

मिट्टी से बने, मिट्टी में मिले, बस ख़त्म हुए, सब शिक़वे-गिले...!

1    1.3K 9

15 अगस्त की विदाई पर

Drama Tragedy

हर तरफ, देशभक्ति का ज़ज़्बात है यहां बस, आज आज़ादी की बात है

1    1.3K 14

एक सिपाही की डायरी

Inspirational

'ना गर ये मंज़ूर ये, दहशत के नुमाइंदों को हो, क़हर बनकर के मैं, उनकी जान पर गिर जाऊँगा।' एक सिपाही के ...

1    7.2K 8

उसकी याद में

Drama

एक अनोखी बात...!

1    16.1K 141

घुड़ दौड़

Drama

बस सब मेरी फ़ुरसत के ही मोहताज़ हैं...!

1    1.7K 36