Read #1 book on Hinduism and enhance your understanding of ancient Indian history.
Read #1 book on Hinduism and enhance your understanding of ancient Indian history.

manju gupta

Others


3  

manju gupta

Others


लॉकडाउन का 15वां दिन

लॉकडाउन का 15वां दिन

3 mins 198 3 mins 198

लॉकडाउन का पंद्रहवाँ दिन 

तारीख 8 /4 /2020 दिन बुधवार , वाशी नवी मुंबई।


आज हनुमान जयंती का पर्व भी है। इस पर्व पर मंदिरों में दूरी बना के रखनी है। लोग नहीं जाएं तो स्वास्थ्य के लिए ठीक होगा। हमें यह पर्व याद दिलाता है कि हिमालय से बजरंगी वीर हनुमान मूर्छित लक्ष्मण के लिए संजीवनी पहाड़ उठा लाए थे। जिससे प्रभु राम के भाई लक्ष्मण की मूर्छा टूटी थी।

कोरोना ने देश, विश्व में कोहराम मचा दिया है। 

एचसिक्यु यानी हाइड्रोसीकलरोकुयीन दवा भारत में बेन हो गयी थी। फिर इसकी मांग हो रही है। 

भारत की कुछ यूनिट जो हिमाचल प्रदेश, गुजरात में हैं यह दवा हाइड्रोसीकलरोकुयीन बनाती थी। अब कोरोना की वजह से इस की मांग दोबारा हो रही है। जो कोरोना के लिये रामबाण है। भारतीय संस्कृति का पोषक भारत इस दवा की विदेशों में मांग होने के कारण जनहितार्थ  में उन देशों की मांग को पूरी करेगा और उन दवा बनानेवाली यूनिटों को दवा बनाने निमित्त आदेश दे दिया है।

कोरोना को लेकर देश में लोगों की चिंता बढ़ रही है क्योंकि कोरोना ने देश के ग्राफ को बढ़ा दिया है। आज देश में कोरोना के  5119 सक्रिय मरीज हैं। जिससे लाकडाउन हटाने का सवाल नहीं पैदा होता है। यह व्यवस्था जीवन बचाने के लिए की है। हमें इन पाबंदियों का पालन करना है इसलिए लाकडाउन पार्ट - 2 सरकार तैयार करेने में लगी है।

इधर जमाती अस्पतालों में उत्पात मचाने में लगें हैं। वे अपना पिशाब बोतल में भर के अस्पताल की खिड़कियों से नीचे खड़े सुरक्षा अधिकारियों पर फेंक रहे हैं। अमानवीयता की गंदी हरकत दुनिया को शर्मसार कर रही है। इनके संस्कार और शिक्षा पर उंगलियां उठाना लोगों का वाजिब है। 

लोग मरकत, मस्जिद में छिप के जमा हैं। 

अब वायरस जहाँ बैठा है उसे हटाना है। इससे पहले भारत के सुवर्ण दिन 14 दिन थे। जब हमने हेल्थ की देखभाल की है। यानी अधिकतर भारतवासी लाकडाउन में रहें। लाकडाउन से ही वायरस काबू में रहेगा।

कोरोना संक्रमित लोगों के घरों में निगरानी के लिए सरकार की यूनिट काम करने में जुटी हैं ।

भीलवाड़ा मॉडल की तैयारी अब सभी राज्यों को करनी होगी। भीलवाड़ा कभी कोरोना का एपीसेन्टर था। भीलवाड़ा में सरकार ने कर्फ्यू लगा के सोशल डिस्टेंसिंग करवाया। बफर जॉन बनाया। स्वास्थ्यकर्मियों के देख रेख में मरीजों को क्वारण्टाइन, आइसोलेशन में रख के कोरोना की जाँच करके कोरोना पर काबू पाया।

उत्तरप्रदेश में कोरोना हॉटस्पॉट 15 जिलों पर 15 अप्रैल तक पाबंदी रहेगी। सरकार ने सभी हॉटस्पॉट को सेनिटाइज करने के आदेश दिया। इन स्थानों पर दुकान बैंक नहीं खुलेंगे। कोरोना के फैलाव को रोकना है। भारत में कोरोना के 80 प्रतिशत मामले माइल्ड है।

कोरोना के सभी सुरक्षा के नियमों का पालन करना है। इन नियमों को हर जन को फिर से गंभीरता से अपने जीवन में उतारना है। तभी जीवन बचेगा। 

उत्तरप्रदेश के 14 जिलों को हॉट स्पॉट किया है। सभी इन इलाकों को सील किया जाएगा। कोरोनो से पीड़ित लोग में लक्षण नजर आने पर भी ये लोग डॉक्टर को बता नहीं रहे है। क्या देश की विडंबना है ? 

कुछ भोली जनता को यही नहीं मालूम लाकडाउन क्या है, क्यों लगा? कितने मनचले लॉक डाउन को तोड़ने में लगे हैं।

यह दशा भारत की सोचनीय है। इन्हें जागरूक करना होगा। 

मिस इंग्लैड का ताज पहनने वाली कोलकता की भाषा सिंह ने अपना ताज उतार के इंग्लैंड के उसी अस्पताल में पहले जिस अस्पताल में काम करती थी कोरोना से लड़ने के लिए डॉक्टर बनकर मरीजों की सेवा करने में जुट गई है। 

मेरे साथ भारत का हर भारतवासी भी कोरोना वारियर्स का कृतज्ञ है। 



Rate this content
Log in