Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Neeru Nigam

Others

4.8  

Neeru Nigam

Others

यह बचपन है

यह बचपन है

1 min
233


इसे मत समझाओ,

यह तुम्हारी नही सुनेगा,

सुन लिया तो भी ,

मानेगा नहीं,

हुजूर यह बचपन है ।


लड़ेगा भी,

रूसेगा भी,

शिकायत कर उसे डांट भी खिलवायेगा ,

मगर कल सब भूल कर,

फिर उन्हीं दोस्तों के साथ खेलेगा,

हुजूर यह बचपन है ।


तुम बड़े हो ,

सही गलत सब जानते हो ,

तुम बहुत समझाओगे,

मगर तुम्हारे दिमाग की नहीं,

अपने मासूम दिल की ही सुनेगा ,

हुजूर यह बचपन है ।


ना रंग से, ना रूप से वास्ता ,

ना ही महंगे और सस्ते का पता,

ना ही अमीर गरीब को जानता,

ना ही ऊंच नीच का भेद जानता,

हुजूर यह बचपन है ।


ऊंची नीची नेकर पहने ,

छोटी बड़ी चप्पल पहने ,

आधे खुले , आधे बंधे बाल लिए,

बस चेहरे पर मुस्कान लिए,

बगैर किसी बनावट किए ,

अनायास ही सबका दिल जीत लेता 

हुजूर यह बचपन है ।


यह ना तो तेरा मेरा का भेद जाने,

यह ना ही 'मै' को ही माने ,

यह तो बस खेल को ही जाने ,

यह तो बस साथ मुस्कुराना जाने ,

हुजूर यह बचपन है ।


Rate this content
Log in