Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Kanchan Jharkhande

सभ्य, साधारण, शब्दों में गहराई है, कोई पूछे कि मेरा अनुभव कितना है, मैं कहती हूँ की, अभी तो जिंदगी की शुरूआत की है। कंचन झारखण्डे


वो मैडम मुझे "कश्मीर" लगीं

Others

वो ज़रा दयालु सी लगी क्योंकि उनके तीव्र भौह मुझे किसी परवाह की लकीर लगती

2    13 2

इश्क समाज से विपरीत नहीं

Abstract

तुम्हारा स्मरण करती हूँ तो क्या कोई पाप करती हूँ?

1    1 0

कंचन

Others

जो करे कटु व्यवहार तुमसे तुम फिर बोलो मीठे बोल,

1    25 1

वो "स्वाति"

Abstract

निर्मल काया मन पावन सी वो "स्वाति" सरल कहलाये।

1    0 0

कवि परिचर्यम

Others

मानव होना भाग्य है कवि होना सौभाग्य

1    2 0

गुलाल से मलाल कैसा?

Abstract

चार रुपइया का गुलाल खरीदकर कहते हो, होली मुबारक।

1    0 0

ज़िक्र संगीत का है

Abstract

सौंदर्यरूपी चहचाहट को सुनने के लिए आतुर होगी।

1    22 2

ग्रामीण स्त्रियाँ

Abstract

स्त्रियाँ जो शहर से अज्ञात हैं वे स्त्रियाँ जो ग्रामीण हो गई।

1    27 3

प्राकृतिक संगीत

Abstract

सौंदर्यरूपी चहचाहट को सुनने के लिए आतुर होगी।

1    30 3

होली गीत

Abstract

आयी है आयी होली आयी के माने नहीं मेरा ये जियरा।

1    8 2

रंग से परहेज कैसा

Inspirational

भर दें खुशी के कुछ पल किसी गरीब के आँचल में।

1    15 1

ये मुस्कुराने की आदत

Abstract

हरफे खफ़ा, हर दफ़ा तुझ पर निशार हो गई।

1    3 1

मुफ़लिस

Inspirational

तह ऐ दिल से आभार मेरी गुजरी हुई गरीबी को मुझे फ़क्र है कि मैं मुफ़लिस हूँ।

2    30 3

वायु

Others

मैं गर ठान लूँ तो फ़िज़ा को सिकन्दर कर दूँ।

1    49 4

महादेवा...

Others

शिव हूँ मैं शक्ति हूँ मैं स्थिर हूँ मैं निरंतर भी मैं

1    10 2

वो शर्मोहया अब अदा हो गई..

Romance

मेरी मोहब्बत ऐ मासूम हरफे खफ़ा, हर दफ़ा तुझ पर निशार हो गई।

1    22 3

स्लेट की चॉक

Abstract

बचपना था, जिगरी दोस्त थे, ओर जिंदगी बेहाल थी।

1    41 2

चाइल्डहुड वाला इश्क

Romance

स्कूल का वो पहला प्यार आज चौक गलियारे में मिला जैसे पतझड़ में बिछड़ा फूल तो फिर बहार

1    41 2

सफ़ेद बत्ती वाला इश्क़,

Others

सिलेट की "सफेद बत्ती" चुपके से खाने वाला प्यार हुआ था बचपन में बेशुमार,

1    8 1

स्कूल का प्यार

Romance

एक अरसा की हिज्र के बाद वो सूखा गुलाब मुझे किताबों में मिला।

1    44 2

राजनीति

Abstract

कीचड़ में रहेगी तो खुद को कमल बतायेगी।

1    24 2

तूफ़ां आया है घर मेरे

Romance

तूफ़ां आया है घर मेरे तो कुछ हवा के झोंके तेरे घर तक भी पहुँचे होंगे, बिखर गया हैं घर

2    12 2

तुम्हारा मौन होना

Others

इस बात का अफ़सोस रहेगा काश तुम ही पूछ लेते की मेरा रवैया क्यों बदल गया था

2    52 3

वीर वो माँ का

Abstract

शहीद से लिपटा तो तिरंगा भी खून के अश्क़ रो पड़ा।

1    4 1

आया सावन झूम के

Abstract

सब ने मिलकर खूब मेला घुमा सावन का खूब मजा लुटा।

1    27 2

दिल बच्चा है।

Romance

सुनो न मेरा दिल न एकदम बच्चा है। इसे मनाओ न जऱा एकदम सच्चा है।

1    23 2

वैलेंटाइन्स वीक

Romance

चॉकलेट भी तुम्हारे आगे फ़ीकी पड़ जाती है।

1    6 1

मोहे सजन ना भावे रे...

Romance

काश ! मैं टैडी होता, तुझे गिफ्ट में मिला होता तू जितनी खुश होती, मैं उतना खुश मिला होत

1    67 4

आशिक की नजर से

Others

तुम्हारी सोच चाहे जो भी हो मेरा वैसा मिज़ाज हरगिज़ नहीं

1    11 1

कुछ दिनों से तुम

Romance

सच बताना तुम मूक से बैठे मेरे आचरण से निस्तब्ध कुछ कहते हो ना

1    27 2

कुछ अच्छा नही लगता

Abstract

कवि क्या है यह तो मुझे ज्ञात नहीं। मुझे तो केवल लिखना आता हैं।

1    22 2

कुछ लड़कियां श्रृंगार से अभिज्ञ

Abstract

एक निश्चित समय आयेगा इस ज़मीन पर खुद का वजूद बनाने के लिए।

1    24 2

मन बावरा

Abstract

यह दुनिया मतलब से मतलब रखती है, कंचन तेरे ज़हन को यह क्यूँ समझ नही आता।

1    3 1

''आदि-शक्ति''

Abstract

परिचय के तौर पर नाम मेरा ''आदि-शक्ति'' बता देना।

1    25 2

कवि की नजर से

Abstract

कवि क्या है यह तो मुझे ज्ञात नहीं। मुझे तो केवल लिखना आता हैं।

1    3 1

स्त्री

Abstract

जब उसे इस मानसिकता की बेड़ियों से उठना था।

1    5 1

चक्रवियु में वनिता......

Abstract

गढ़ जाऊँ या उड़ जाऊं मैं किस किस पर फिर मर जाऊं मैं।

1    25 2

अन्तःरस्थ मन

Romance

हरफ़े गलत हूँ मैं तो मिटा दो मुझे दर्द अक्सर बयां करने की सजा दो मुझे।

1    41 3

मृत्यु से पूर्व की व्यथा

Abstract

मृत्यु पूर्व फिकर जो सताती है। जान निकलने वाली अक़्सर यूँ ही रुक जाती है।

1    1 1

कुछ ऐसा होगा; साल 2040

Tragedy

कितने संसाधनों को खो चुके मेरी नज़र में साल 2040 कुछ ऐसा होगा।

1    22 2

ओल्ड इज गोल्ड

Classics

और सच बताना यार मेरे क्या दिल से वो यादें जाती हैं

1    2 1

गाँव का त्यौहार

Abstract

परियों की कहानी और नानी-दादी का दुलार याद आता है मुझे वो गांव का त्यौहार

1    2 1

वीरांगना की ख़ुदकुशी

Abstract

कभी किसी की संदूक तले एक पुस्तक में सहमी पड़ जाएगी।

2    22 2

चाय से इश्क़

Romance

बहाना कुछ यूँ बना लेना

1    8 1

इतनी गहराई मेरे इश्क़ में

Abstract

आसमां टूट पड़े मैं गर जो फरियाद करूँ।

1    23 2

इश्क़ पर चर्चा

Romance

मुझे किसी विषयगत बैठक जैसा लगता हैं।

1    24 2

नियति

Abstract

नियति, अब तुम मुझे हवस की नजरों से ताकोगे।

1    26 2

सावन का इश्क़

Tragedy

मोहे सजन ना भावे रे जब देख कर उनको मन बावरा हुआ, वो विदेश गये लौट आने को

1    3 1

अंनत प्रेम

Abstract

प्रेम तुझको मुझसे और मुझको तुझसे भी हो सकता है।

1    16 3

गुलाब का इश्क़

Abstract

मेरे गलियारे में फिर से सूक्ष्म फूलों की बेलाएँ खिली।

1    25 2

सदाबहार माँ की भूमिका

Others

तो कभी माटी का दीया, कभी चौका कभी तीज़ सी हैं माँ।

1    33 2

प्रेम की अग्नि परीक्षा

Abstract

बसंत सी खिली हुई हसीन बंद आंखें और मुरझाई हुई कली सी।

3    13 1

गांव.....

Others

टते वक़्त सूरज के साथ दौड़ लगाना मेरा प्रातः उठते गोबर के गेंद दीवारों पर चिपकाना मेरा

1    9 1

बूँद..

Romance

लगता है इस टिप टिप करती बूँद से चाहत बुनती हूँ।

1    11 1

समर्पण...

Abstract

किसी खण्डर की चौक तले पाषाण के महीने में हाँ मैं दूब हूँ।

1    49 3

स्मृति

Abstract

तुम्हें केवल क्षण भर सोचने से कम्पन करते हैं, मेरे आलन्द-निलय तीव्रता से गमन करने लगती है। श्वास-...

1    12 1

मैं प्रेम चाहती हूँ मगर भिन्न,

Romance

मेरे अर्थ मैं प्रेम की कोई सीमा नहीं प्रेम बेशर्त, निर्मोह, अद्भुत होता है, प्रेम का

1    7 1

नाज़ ऐ इश्क...

Romance

चाहा श्याम, पाया नाम। मीरा प्रीत, सच्ची रीत।

1    45 2