Bhawna Kukreti

Others


4.8  

Bhawna Kukreti

Others


"कोरोना लॉक डाउन-7(आपबीती)"

"कोरोना लॉक डाउन-7(आपबीती)"

3 mins 129 3 mins 129

काल रात बहुत गहरी नींद आयी थी और सुबह भी देर तक सोती रही।


आज अष्टमी थी ,इस बार की अष्टमी बिना कन्या जिमाये पूजी गयी। कैसी विडंबना है न?! कोरोना की वजह से आज किसी ने भी कहीं भी बेटियां नही भेजी कन्या पूजन को । सोच रही हूँ कि जो पेट मे ही मार देते होंगे उन्हें या बाकियों को ये ख्याल आया होगा कि अगर कल ऐसे ही बिना किसी विपदा के कन्याएं न मिलें तो? वो भी एक विपदा ही होगी न?! खैर धर्म के ठेकेदार कोई तोड़ निकाल ही लेंगे।जैसे आज निकल आया ,गौ माता को 9 ग्रास देवी एक हनुमान जी के नाम से खिला कर।


आज बेटा जल्दी उठ गया था।पूरा अपने पापा पर गया है, मुझे चैन से सोता देख जरा भी डिस्टर्ब नहीं किया। ऐसे बहुत लापरवाह दिखता है मगर जब तबियत खराब हो तो अच्छी-अच्छी माँऐ भी फेल हैं उसके सामने। कह रहा था मां आप बहुत सुंदर लग रहे थे सोते हुए।


11 बज रहा है कोरोना की वजह से आज हम ये भूल गए कि आज अप्रैल फूल भी है।पिछले साल मैने सबको बहुत बढ़िया बुद्दु बनाया था।मगर इस बार तो जैसे सब जगह फीकापन आ गया है। आज एक काम किया , फेस बुक पर अपना एक पेज बनाया।जिसमे जो भी कविताएं इधर उधर लिख दिया करती थी ,उसे लिखा करूँगी। पहले तो समझ ही नही आया कि कैसे क्या करूं ,फिर हिट एंड ट्रायल की तर्ज पे शुरू कर दिया। और शेयर किया।सच मे मुझे कुछ बहुत अच्छे लोग मिले हैं , शेयर करते ही 40 लोगों ने लाइक किया फॉलो किया और हौसला अफजाई भी की। अच्छा लग रहा है।

मेरी एक बैच मेट हैं अनिता मैंम ,उन्होंने मुझे टी कॉन(टेली कोफ्रेन्सिंग )के लिए लिंक भेजा है।इसमें अजीम प्रेम जी के दीपक सर ने एक चर्चा का आयोजन रखा है। मुझे झिझक हो रही थी, पर सर ने मुझे लिंक भेज दिया। फोन चेंज किया था तो मेरे पास उनका नंबर ही नहीं था। अब कल सुबह 9:30 पर शैक्षणिक चर्चा है । बताओ तो !! कोरोना के समय मे देखो कितना अलग और अनोखा अनुभव मिल रहा है। पहले स्टोरी मिरर की तरफ से ओपन माइक और अब ये , सच तकनीकी सच मे वरदान सी लग रही है अभी । छोटे से शहर से बिस्तर पर पड़े पड़े ..


लो जिसका डर था हो गया । हमारे हरिद्वार में 4-5 घरों में क़ुरएन्टिन कर दिया गया है।वो भी आस पास की इलाकों में। मम्मी जी फोन पर कह रहीं थी कि अब नही कहेंगे काम वाली को आने को ,जो कष्ट होगा सो होगा।कल मेरा भी आखिरी इंजेक्शन और फिर अपॉइंटमेंट है डॉक्टर से ।शायद कुछ चलने फिरने को कह दे।अब कह ही दे बहुत झेल लिए। इनकी कॉल आ रही है ,चलो डियर गुड नाईट ।अब कल बात होगी।


Rate this content
Log in