Kunda Shamkuwar

Others


4.3  

Kunda Shamkuwar

Others


कहानी का शुरू से शुरू हो जाना

कहानी का शुरू से शुरू हो जाना

1 min 3.0K 1 min 3.0K

रेडियो में गाना बज रहा था,'चलो दिलदार चलो चाँद के पार चलो......'


रिमझिम फुहारों के बीच उस सुहानी शाम को चाय पीते पीते दोनों बातें कर रहे थे। वह कहने लगी,"चलो कहानी शुरू से शुरू करते है।"

"कैसी कहानी?" पति ने सवाल किया।"अरे, कभी आसपड़ोस का भी खयाल रखा करो। मिसेज शर्मा के बेटे ने court marriage किया है और घर में दुल्हन भी लेकर आ गया है।"

"अरे ये तो बड़ी खुशी की बात है।"

पति की बात को बीच मे रोकते हुए वह कहने लगी,"तुम्हें नहीं पता, मिसेज शर्मा वाले बहुत ज्यादा नाराज़ है। उनके अरमानों पर तो पानी ही फिर गया है।और उनके घर मे छाए हुए सन्नाटे को देख लगने लगा कि नयी दुल्हन के सपनों की हैसियत शर्मा वालों के अरमानों के आगे कुछ भी नहीं है।"

पति महोदय कहने लगे,"छोड़ो ये सब। उनके घर की कहानी का हमे क्या लेना देना?"


लेकिन उसको अंदाजा हो गया कि कहानी खत्म नहीं हुई। बल्कि शर्मा जी के घर एक पसंद की नापसंदगी वाली नयी कहानी शुरू से शुरू हो गयी है…


Rate this content
Log in