Click Here. Romance Combo up for Grabs to Read while it Rains!
Click Here. Romance Combo up for Grabs to Read while it Rains!

Shubham Pandey gagan

Others


3.0  

Shubham Pandey gagan

Others


एहसास

एहसास

1 min 56 1 min 56

सीमा आज बड़ी बेचैन है क्योंकि उसका बेटा पहली बार आज घर से दूर रहने गया है। दिन में कम से कम 10 बार फ़ोन करके उसकी कुशलता और हाल पूछती है। उसके पति बार बार कहते है कि ,"क्यों परेशान हो भाग्यवान कुछ नहीं होगा अब वह बच्चा नहीं 20 बरस का हो गया है और मैंने उसे अपने मित्र के यहां कमरा दिलवाया है।"

परन्तु वह कहां सुनती थी किसी की?

उसने कहा,"आप मर्द लोग बड़े निर्दयी होते हो, आप क्या समझोगे एक मां की पीड़ा जब उसका बेटा उससे दूर जाता है।"

तब उसका पति कहता है ," भाग्यवान! मैं तुम उससे भी छोटे थे जब हमारी शादी हुई और तुम्हारी ज़िद पर मैं घर, माँ, बाबू छोड़ कर चला आया था। अब मुझे एहसास हो रहा कि मेरी माँ कितनी परेशान हुई होगी।"


Rate this content
Log in