Kunda Shamkuwar

Abstract Children Stories Drama


4.6  

Kunda Shamkuwar

Abstract Children Stories Drama


चीर हरण

चीर हरण

1 min 182 1 min 182

हम सब जानते है कि महाभारत में जब द्रौपदी का चीरहरण हो रहा था तब भगवान कृष्ण ही एकमेव व्यक्ति थे जिन्होंने द्रौपदी की लाज बचायी थी।सारे पाण्डव,भीष्म और विदुर जैसे लोग भी मौन थे और कौरव विकटता से हँस रहे थे, तब एकमेव भगवान कृष्ण ही थे जिन्होंने उस समय द्रौपदी को साड़ियों की पूर्ति कर उनकी लाज बचायी।


कभी कभी नही, मुझे यह सवाल हर बार सवाल करता है की बजाय दुःशासन और दुर्योधन को रोकने के वे द्रौपदी को साड़ियों की पूर्ति क्यों करने लगे?


दुःशासन को रोकना उनके लिए ज्यादा इजी नही था?


उन्होंने ऐसा क्यों किया होगा? 


ये उनका कैसा मैनेजमेंट था?


Given the same situation अगर आज किसी मैनेजर की पोस्ट के इंटरव्यू में कोई कैंडिडेट यह solution देगा? 

क्या उसे वह जॉब मिलेगी?

एच आर स्क्रीनिंग करने वाले कि क्लास नही लेगा? 


मुझे लगता है कि आज के एच आर मैनेजर्स को और दूसरे मैनेजर्स को भी पूछना होगा कि वे ऐसी सिचुएशन में क्या करते?दुःशासन को चीरहरण से रोकते या द्रौपदी को साड़ियों की पूर्ति करने लगते?


चलिये, आप ही बताएँ, आप क्या करते?

एक और छोटा सवाल जहन में और आ जाता है।साड़ियाँ कहाँ से आ रही थी?ये सवाल इसलिए भी है कि साड़ियाँ तो वस्तु का एक प्रकार है जिनका आपूर्ति के लिए प्रोडक्शन होना जरूरी होता है।

इसमे भी आप की राय पूछना जरूरी हो जाता है....


Rate this content
Log in

More hindi story from Kunda Shamkuwar

Similar hindi story from Abstract