Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Pawanesh Thakurathi

Others

5.0  

Pawanesh Thakurathi

Others

सोलह कला

सोलह कला

1 min
217



उसने नज़र झुकाई

पलकें उठाई

निहारती रही

छत से। 

कुछ देर बाद

भंवरे-सी गुनगुनाहट

हवा में बिखर गई। 


वह मुस्कुराई

आगे बढ़ी

कहने लगी- "बाय।"

उस हाथ से

जिसमें क्षमता थी

कई लोगों का

भाग्य बदलने की। 


फिर उसी हाथ से

संभाला

उसने दुपट्टा

और मुस्कुराती हुई

उतर गई

सीढ़ियों से नीचे

धीरे-धीरे। 


मैं टकटकी लगाये

देखता रहा

उसे खिड़की से। 

हैरान हूँ

पूर्णिमा नहीं आई

लेकिन चाँद आ गया

पूरा खिला चाँद

सोलह कलाओं वाला चाँद। 


Rate this content
Log in