Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
मन की आवाज
मन की आवाज
★★★★★

© Ila Varma

Others Tragedy

1 Minutes   7.0K    5


Content Ranking

यह एक जिंदगी की नहीं

यह हर नारी की हार है

फिर से पराजित हुई नारी

हामी भरते हैं हम अपनी आधुनिकता व विकास पर

कद्र नहीं करती समाज नारी की

जुल्म की शिकार होती रहती है नारी

दोषी  ठहराते हम उसको हमेशा

हजारों उंगली उठाते उसकी अदा व पहनावे पर

पर बोलो क्या सुरक्षित है नारी परदे के पीछे

 

नारी मन आवाज समाज

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..