Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
हम चलते रहे
हम चलते रहे
★★★★★

© Vishal Ajmera

Others

1 Minutes   6.8K    3


Content Ranking

हम चलते रहे

वक़्त गुजरता रहा ।

जाने कितने मौसम

जीवन करवट बदलता रहा ।

अंगड़ाइयाँ, रुसवाईयाँ

कभी धूप, कभी धुँधली परछाइयाँ ।

अंधेरों में भी तपता रहा

नासमझ कभी गिरता, कभी सँभालता रहा ।

हम चलते रहे

वक़्त गुज़रता रहा ।

 

थम जाऐ वक़्त भी

तो क्या मज़ा है । 

ज़िन्दगी बिन सफ़र के

बेमौत ही सज़ा है ।

हर तज़ुर्बे को

ज़िन्दगी के धागों में पिरोता रहा ।

हम चलते रहे

वक़्त गुजरता रहा ।

#Life #StoryOfLife #LifeLessons #StoryCalledLife #SeasonsOfLife #TimesInLife #Life'sGlory

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..