Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
भेड़िये और हिरण के छौने
भेड़िये और हिरण के छौने
★★★★★

© Neeraj Kumar

Others

1 Minutes   14.3K    4


Content Ranking

सहिष्णुता के सबसे बड़े पैरोकार 
डाल देते हैं नमक 
अपने विरोधियों की लाशों पर । 
चमक उठती हैं उनकी आँखेंं 
जब जंगल के भीतर 
रेत दी जाती है गर्दनें 
लेवी की खातिर ।

और जो असहिष्णु हैं 
अपने काम को देते हैं 
सरंजाम 
बीच चौराहे पर 
ताकि सनद रहे

छल प्रपंच और सुविधा के अनुसार रचे गऐ 
इन छद्म विचारों के खुरदरे पाटों के बीच 
पीसती है मानवता 
माँगती है भीख 
मंदिर, मस्ज़िद, गिरिजा के चौखटों पर 
और लहूलुहान नज़र आती है 
लाल झंडे के नीचे।

भेड़ियों के झगड़े में 
हमेशा नुकसान में रहते हैं 
हिरण के छौने ही। 
------ नीरज कुमार नीर / 23.05.2015

Mob 08797777598 

neerajcex@gmail.com 

 

#society dharm #religion #politics mandir msjid humanity मानवता राजनीति

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..