Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
वीरांगना लक्ष्मीबाई
वीरांगना लक्ष्मीबाई
★★★★★

© Raman Sharma

Others

1 Minutes   7.0K    5


Content Ranking


वो तो वीरागंना थी ,
सर्वश्रेष्ठ महान नारी थी ।
नाम था जिनका लक्ष्मीबाई ,
दूसरा अवतार महाकाली थी ,
दिया था अंग्रेजों को मुँहतोड़ जवाब ,
हिंदुस्तान की वो पहली नारी थी ।
एक उन्होंने नारी सेना बनाई ,
दूसरा नारियों में हिम्मत जगाई थी ,
दिया था अंग्रेजों को मुँहतोड़ जवाब ,
हिंदुस्तान की थी वो पहली नारी थी ।
रची गईं साजिशें बहुत ,
पर हिम्मत नहीं हारी थी ,
हुई हर बार जीत ,
अंतिम तक लड़ती रही थी ।
किया अंग्रेजों ने आक्रमण ,
जब वो अकेली पड़ी थी ,
हारी नहीं हिम्मत ,
अंत में वीरगती प्राप्त की थी ।
हिंदुस्तान की वो पहली नारी थी ...
आता है जब इतिहास याद ,
आँखों में छा जाती है नमी ,
कितना बड़ा योगदान जिनका ,
जिन्होंने हमें आज़ादी दिलाई थी ।
------ रमन शर्मा हिमाचली ।

hindi poetry krantikari

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..