कोट्स New

ऑडियो

मंच

पढ़ें

प्रतियोगिता


लिखें

साइन इन
Wohoo!,
Dear user,

नोट : कन्टेन्ट क्रमांक चुने हुए जोनर के तहत फिल्टर में प्रदर्शित होंगे : abstract

अपने ध्यान के यान में सवार होकर वापस आ गया पृथ्वी पर अपने निष्चल पड़े हुये शरीर में read more

21     251    21    416

दादीजी को आजीवन कोई कष्ट न हों ऐसा दादाजी को दिया गया मेरा वचन आज पूर्ण read more

2     299    47    441

जैसे अभी दो दिन पहले अपनी बिदाई पर रोई थी वैसे ही, पीछे न जाने कब पत्नी आकर खड़ी हो read more

4     513    44    448

अपनी घबराहट का कारण मालूम कर विवेक बुद्धि से उसे दूर करने का प्रयास चालू read more

4     141    36    458

"अलविदा।" इस जवाब से उसने मुझको, झल्ली से मुक्त कर read more

6     1.2K    36    459

पर्यावरण को शुद्ध बनाने के लिए अपना तन मन धन कुछ न्यौछावर कर read more

6     219    33    461

आज ने भूत और भविष्य को बुलाया था ताकि सब मिल कर बातचीत करें पर भूत और भविष्य लड़ read more

5     609    30    464

समय बहुत बदला और इंटरनेट ने हमारे जीवन में गहरी पैठ बनायीं।स्कूल, कॉलेज, हॉस्पिटल read more

2     327    51    476

एक दंगाई की माँ कहलाने से अच्छा है अपने घर के साथ खुद को भी फूंक read more

2     203    51    477

मैं जानता हूँ कि मैं गलत नहीं हूँ, मेरे लिए यही काफी read more

4     538    18    497

मैंने उसे कहा," अरे, तुम को यहाँ नहीं होना चाहिए था,तुम्हारी परफेक्ट जगह तो किसी read more

2     341    7    509

बौद्ध भिक्षु का धन्यवाद कर हम सभी वहाँ से निकल read more

5     154    6    513

मैं तो बस वीडियो कॉल करना सीखना चाहता read more

2     51    4    514

आज भी दुनिया में राष्ट्रवाद हावी read more

4     41    3    515

अपने बेटे की लाश ले जाते वक्त लड़के के पिता ने डॉक्टर साब को बद्दुआ दी read more

6     409    49    524

दो मोटे आँसू आँखों के कोर से निकल गाल पर जम read more

4     304    46    533

उसकी सांसें तब उखड़ी जब उसे पता चला कि वो हार गया है। वो अपने जीवन की आखिरी दौड़ read more

5     342    45    534

वो तो ख़्वाबों, ख़्यालों में जीने वाली नादान बच्ची read more

8     276    40    547

अगर ख़्वाब ना हों तो जिंदगी तारीख बन जाती है। शुरू से ही मैं अपने आप मे सिमटकर read more

1     351    35    555

एक लड़की का घर उजाड़ वह नया आशियाना बसाने चला है। क्या यही प्यार है read more

7     281    33    564

लेकिन राज यह भी सोचता था कि यह प्यार था या कुछ read more

4     379    52    580

माँ अपने बच्चे की हर बात समझत और उसे समझा लेती है जब वो बच्चा किसी को न समझा पाए तब read more

6     342    14    610

ऐसा कहकर वो ठीक वैसे ही चले गए जैसे घायल अर्थव्यवस्था चल रही है भारत में read more

4     385    48    642

बस सही राह चलना तुम्हें किसी से डरने की जरूरत नहीं। तुम्हारे हर कदमों के पीछे मैं read more

4     364    46    644

सेवादास की बात सुनकर सभी खिलखिला कर हंसने लगे। अब तनाव की जगह ठहाकों ने ले ली read more

4     301    45    646

उनसे अब हिल स्टेशन पर चढ़ा जा नहीं सकता ।चीकू के पापा सेवानिवृत हो चुके और सेवानिवृत read more

11     346    41    652

मैं हमेशा अपनी बाहें फैलाए तुम्हारे स्वागत को तैयार read more

5     342    40    658

रखिये ये आप, एक छोटा सा तोहफा समझकर ही रख लीजिए और ये मेरा कार्ड भी रखिये read more

8     334    29    487

ऑनलाइन प्यार टाइमपास बना सकता है लेकिन राधा कृष्ण नहीं पारो देवदास नहीं हीर रांझा read more

8     225    38    662

कभी कभी अपने को बढ़ा-चढ़ा कर बताना जरूरी नही होता।समय आने पर साथ निभाना जरूरी होता read more

6     233    30    677