Exclusive FREE session on RIG VEDA for you, Register now!
Exclusive FREE session on RIG VEDA for you, Register now!

Cute Mehak

Children Stories


3.5  

Cute Mehak

Children Stories


मेरे मां बाबा

मेरे मां बाबा

1 min 109 1 min 109

मैं जब भी महफ़िल में जाती हूं

सबको यही समझती हूं

  

मैं कोई पंछी नहीं जो 

हर वक़्त पिंजरे में कैद कर दी जाती हूं

  

मुझे ठोकर लग जाती है 

मेरी मां पत्थरो को हटाती है 

  

मेरी हर सपने को 

मेरी मां अपने आंचल में रख के सजाती है 


मुझे हंसता देख

मां आज भी मुस्कुराती है ।


पापा कहते है ,

कली है खिल जाने दो 

घर आंगन को खुशियों से महकाने दो 

 

तितली ही तो है हमारी 

खुले आसमान में उड़ जाने दो 

  

नन्हे नन्हे कदम है  

गिर कर सम्भल जाने दो 


अपने नन्हे हाथों से 

अपनी प्यारी दुनिया सजाने दो 


कली है खिल जाने दो 

तितली है आसमान में उड़ जाने दो ।

  



Rate this content
Log in