Exclusive FREE session on RIG VEDA for you, Register now!
Exclusive FREE session on RIG VEDA for you, Register now!

Dhaval Sangtani

Others


5.0  

Dhaval Sangtani

Others


आसान नहीं है लड़की बनना

आसान नहीं है लड़की बनना

2 mins 177 2 mins 177

आसान नहीं है लड़की बनना

अपने ही ख़यालों को अपने पास रखना 


बचपन से ही माँ बाप को चिंता हो जाती है

जब वो सुनते है उनको लड़की हुई है


आसान नहीं है लड़की बनना

अपनी ही खुशी अपनी बेटी से छीन जाती है


बचपन से ही उसको डरा दिया जाता है

अकेले बहार मत जा कुछ हो जायेगा


आसान नहीं है लड़की बनना

बचपन से लेकर आज तक बड़ा किया जाता है

बड़ी हो कर उसको अपनों से दूर कर दिया जाता है

एक अंजान मुल्क, अंजान लोगो के बीच

भेज दिया जाता है


आसान नहीं है लड़की बनना

जब खुशी आने वाली होती है

तब भी उसे पेट में दर्द होने लगता है और

उसको अपनी ख़ुशियों को दूर किया जाता है


आसान नहीं है लड़की बनना

एक तरफ उसे माता का अवतार दिया जाता है

दूसरी तरफ उसको धरती पर माता पिता का

बोझ माना जाता है


आसान नहीं है लड़की बनना

सवेरे उठते ही उसको काम सौंप दिया जाता है

अगर वो काम में कुछ ग़लती हो जाये 

तो उसकी ग़लती के लिए बार बार टोका जाता है


आसान नहीं है लड़की बनना

बहार मत जाना रात में अकेले, ख़तरा है

ये बोल के उसको घर में ही बिठाया जाता है


आखिर वो लड़की है उसको भेदभाव सहने होते है

आसान नहीं है लड़की बनना

अपने ही घर में खेद है

अपने ही क्यों करते है इतना भेदभाव

क्यों कोई उनको नहीं बोलता जिसको

उनसे ख़तरा होता है


आसान नहीं है लड़की बनना

उसके अनेक रूप होते है

कभी बेटी, कभी बहन, कभी माँ,

कभी धर्म पत्नी


वो स्त्री है, उसको एक मौका दो 

ये ग़लत साबित करने का की 

वो अनेक रूप लेने वाली औरत है

इस दुनिया में बोझ नहीं है



Rate this content
Log in