Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



kavi manoj kumar yadav

manoj

  Literary Captain

शरीर जिंदा है

Tragedy

घर में तंगी थी , पर मनीष अपना काम पूरी वफ़ादारी और निष्ठा से करता था, इसके बावजूद भी ऑफ़िस में उच्च अ...

2    267 0

छल

Tragedy

बंटी और रोहन दूर खड़े मुस्कुरा रहे थे।समीना नम आँखों से बस एक टक रमेश को देख रही थी। वह एक बार फिर छ...

7    424 6

माँ

Children Stories Inspirational

एक रोज मैं विद्यालय में हुई किसी प्रतियोगिता में इनाम जीतकर घर लौटा। माँ को इनाम दिखाने के उत्साह मे...

2    243 2