Become a PUBLISHED AUTHOR at just 1999/- INR!! Limited Period Offer
Become a PUBLISHED AUTHOR at just 1999/- INR!! Limited Period Offer

Raagwaj DIARY

Others

4.8  

Raagwaj DIARY

Others

मुझे पहचानो

मुझे पहचानो

1 min
420


स्याही ने कलम की हर बात मानी है क्या ?

यह कागज़, यह कलम मेरे शब्दों की दीवानी है क्या ? 


माना यह जमाना, इस मशहूर को पहचान लेता है,

मगर इसने मेरी रूह पहचानी है क्या?




Rate this content
Log in