जिंदगी में में अगर कभी तुमसे दूर जाऊं ए दोस्त, तो यह ना समझना कि मुझे तुम्हारी कदर नहीं है। अगर कभी कामयाब हुआ तो अपने संघर्ष और उसमें तुम्हारी अहमियत दोनों को तसल्ली से बयां करूंग।

By Vijay Rana
 53