Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Rohit Verma

वक्त मिलता है तो लिख लेता हूं अगर आपको अच्छी लगी तो लाईक जरुर करे और फॉलो भी कर सकते है और जिसको न अच्छी लगे तो इग्नोर करे आप कॉमेंट बॉक्स में अपनी राय दे सकते है ।।

  Literary Colonel

आ गई सर्दी

Drama

क्योंकि सूप से प्यास बुझाने आ गई आज।

1    137 35

बचपन के कुछ पल

Classics

पापा आ रहे सुन कर डरकर जल्दी सो जाते थे।

1    271 2

रिश्तों की मिठास

Others

रिश्तों की पोटली भर कर रखना ये खाली भी होते रहते है

1    3 1

फटी जेब

Others

फटी जेब है चले है समुंदर पार करने फटी जेब है चले है अपना नाम करने

1    0 1

विचारों की धारा

Abstract

दुःख के जंजाल से बाहर निकलने के लिए तैयार हो जाओ।

1    3 1

आदमी होना आसान नहीं

Abstract

वह ही अपने मां-बाप का सहारा बनता है।

1    16 1

बढ़ती उम्र

Drama

इस दुनिया में हम भी थोड़ा रंग लेते हैं।

1    111 4

बिन सोच विचार

Classics Drama Others

कुछ बात कहने से पहले जान लो कि आप सही बोल रहे हो या गलत,

1    7 1

हम उम्मीद रखते हैं

Drama

हम उम्मीद रखते हैं और उम्मीदों पर खड़े उतरते हैं।

1    295 45

पैसा तू ही माया है तू ही देवता

Abstract

किसी को लालची बना देता है किसी की जिंदगी खुशहाल बना देता है,

1    241 35

मुरझाए फूलों से क्या पूछोगे?

Abstract Fantasy Romance

मुरझाए फूलों से क्या पूछोगे? यू ही सूखे पड़े हो क्यो

1    28 2

आपको समझने वाला

Drama

गरीब आदमी कब तक भूखा रहने वाला है आपको केवल समझने वाला ऊपर वाला है।

1    286 30

वक्त बदल रहा हैं

Inspirational

वक्त बदल रहा है कुछ बातों को भूल जा।

1    142 34

तलाश है

Drama

तलाश है तो हर किसी को है पर वह तलाश खत्म नहीं होती।

1    300 28

नन्द किशोर

Classics

वह नटखट हैं वह नन्द किशोर हैं वह राधे-कृष्ण हैं

1    51 3

नसीब की बात

Abstract

नसीब नसीब की बात होती हैं किस्मत हर किसी के साथ न होती हैं नसीब नसीब की बात होती हैं कुछ कि...

1    11 1

खुद की पहचान

Inspirational

जब कोई आपकी निराशा से खुश हो तो उसके आगे थोड़ा -सा मुस्कुरा देना, देखते ही देखते उसको जला...

1    200 46

स्वतंत्रता दिवस

Inspirational

भारत के लिए जो रक्षक बना उसको सलाम करते हैं, उसको हम भारत माँ की जय करते हैं,

1    298 2

कविता

Others

मीठास में हलका -सा नमक ड़ाल दो खटास आ ही जाती है

1    173 45

पसन्द

Others

जो इधर -उधर भटकता हैं मिलने के लिए वह सामने नहीं आता है,

1    143 32

न मैं अमीर हूँ न ही मैं ग़रीब हूँ

Others

मैं साधारण जीवन जीता हूँ, दो वक्त की रोटी के लिए बाहर निकलता हूँ,

1    325 40

रक्षा-बन्धन

Others

जब खुशियाें की बात करते हैं तो काम आते हैं भाई-बहन के रिश्ते नाते।

1    176 17

माँ की पुकार

Tragedy

विदेश में बेटा परायी स्त्री से प्रेम जताऐगा। पर माँ ने ये न सोचा कि बेटा भूल जाऐगा।

1    51 3

सत्य

Others

इंसान तो सब एक जैसे हो सकते हैं पर हर रूप में अलग हो सकते हैं

1    50 3

घर का मुखिया

Others

घर का मुखिया अपने घर वालों के लिए रक्षक बन जाता है

1    28 2

एक सोचा समझा विचार

Romance Others

मन में विचार आया कुछ बड़ा करने की पर उसकी शुरुआत शुरु छोटे से करने की

1    265 2

लकीर

Others

हाथो की लकीरे मिटाई नहीं जा सकती, जख्मों पर मलहम लगाकर सफाई नहीं दी जाती।

1    48 3

मंज़िल

Others

जब तुम मंज़िल के करीब होते हो, बीच रास्ते में छोड़कर भाग जाते,

1    337 4

सुंदरता

Others

रूप पर जाने वाले बाहरी सुंदरता की ओर आकर्षित हो जाते हैं,

1    85 4

कहा गया वह बचपन

Children Others

बचपन बहुत जल्दी बीत जाता और यादों में हमेशा एक कसक बन रहता है

1    337 3

सच्चाई

Drama

वह तो वक्त पर बदल भी सकता है।

1    43 1

एक सीख

Others

असफलता के बार-बार प्रयास तुम्हे सफलता तक पहुंचाते हैं।।

1    114 4

सलाम

Others

वह सैनिक हैं जो हमारी रक्षा के लिए लड़ते रहते हैं

1    12 0

शतरंज की चाल

Drama

हर कदम सावधानी से बढ़ाया जाता हैं क्योंकि उस वक्त चलाकी काम आती हैं !

1    40 2

गरीब की दास्तान

Others

गरीबी तो उस गरीब को पता हैं, जिसने साधारण जीना सिखाया हैं||

1    53 1

माँ की ममता

Abstract

माँ की ममता में वह स्नेह है किसी को दु:खी नहीं कर सकता।

1    97 4

माटी के पुतले

Abstract

पुतले कई संस्कृति को उजागर करते

1    227 16

लिखने की वह पहली शुरुआत

Abstract

जीवन मे जो घटित हो रही लिख दूँ वो ही बात, पढने के लिए बैठ जाएगा पूरा समाज,

1    25 1

एक कविता

Drama

इंसान खुद पर भरोसा करके चलता जाए उसको बहुत आगे तक ले ही जाती हैं !

1    280 13

मेहनत व नाकामी

Inspirational

नाकामी आगे खुलने वाले दरवाजे भी बंद कर सकती हैं !

1    117 2

खुद का संसार

Others

और दूसरो को इज्जत से रहना सिखाते हैं, वह आगे बढने का मार्ग बनाते हैं, अपने दुश्मनों से बचकर रह...

1    57 2

उम्र

Thriller Others

4-18वर्ष की उम्र में संस्कारों का पालन सिखाया जाता है...

1    20 1

घर

Abstract

जिस घर में सुबह शाम भगवान का वास होता हैं

1    108 2

आलस्य

Abstract

आलस्य बुद्धि खराब करता कोई भी निर्णय नहीं करता

1    74 1

जिंदगी

Others

कुछ नया करते रहो, जिंदगी तो उलझी पहेली हैं इसको सुलझाते रहो, जिदगीं अच्छा समय

1    105 3