@x4jixeg3

Archana kochar Sugandha
Literary Colonel
259
Posts
106
Followers
9
Following

लिखने में हद से भी ज्यादा जुनूनी

Share with friends
Earned badges
See all

Submitted on 11 Apr, 2021 at 11:56 AM

दरकिनार ना कर जिंदगी से, जख्म इश्क का रिसता है रुसवा होकर ना चल, अभी दिल का दिल से रिश्ता है। अर्चना कोचर

Submitted on 23 Mar, 2021 at 15:08 PM

सूरमाओं की तलवार होली खेलें रणभूमि में वार-वार होली खून की बहा देंगे नदियाँ वतन के दुश्मनों से प्रतिकार होली । अर्चना कोचर

Submitted on 02 Mar, 2021 at 17:41 PM

प्रजातंत्र में जहाँ तुम्हारे अधिकारों की शुरूआत होती हैं वहीँ से मेरे कर्तव्यों की शुरूआत होती हैं। कर्तव्यों पर खेद का बाना चढ़ जाता हैं अधिकार बेलगाम आगे बढ़ जाता हैं। । अर्चना कोचर

Submitted on 18 Feb, 2021 at 06:45 AM

संसार में आने पर ,तू रोया जहाँ हँसा था। संसार से जाने पर, तू हँसा जहाँ रोया था । अर्चना कोचर

Submitted on 12 Feb, 2021 at 17:45 PM

डाक्टर सेवा का देते भरपूर मौका जैसे ठण्डी हवा का झोंका। पैसों से है दर्शनों का प्रावधान है मरीज का रखते पूरा ध्यान हैं। अपनी तिजोरी का भी बढ़ाते मान है।

Submitted on 09 Feb, 2021 at 17:50 PM

जिंदगी के पृष्ठों की किताब बनाने निकले हैं एक-एक पल का हिसाब गिनाने निकले हैं जो पृष्ठ रह गए हैं एकदम से कोरे उन्हें रंगों से सजाने, निकले हैं। अर्चना कोचर

Submitted on 06 Feb, 2021 at 15:12 PM

जिंदा रखेंगे तुम्हारा जहान, हम तुम से गुजारिश करते हैं तुम्हारी दी आँखों से, दुनिया की रंगीनियाँ देखने की ख्वाहिश रखते हैं। अर्चना कोचर

Submitted on 06 Feb, 2021 at 15:07 PM

यह दामन पर दाग के रंग है जनाब अपने पर नहीं उड़ेले जाते हैं । अर्चना कोचर ©️

Submitted on 06 Feb, 2021 at 15:04 PM

बड़ी मेहनत की है मैंने किस्मत को अपने रंग में ढालने की पर कमबख्त बागी हो ही जाती है । अर्चना कोचर


Feed

Library

Write

Notification

Profile