@r3ref7i2

Shailaja Bhattad
Literary Brigadier
AUTHOR OF THE YEAR 2018 - NOMINEE



360
Posts
246
Followers
0
Following

मेरा नाम डाॅक्टर शैलजा एन भट्टड़ है। मैंने प्रायोगिक रसायन विज्ञान में पीएचडी की उपाधि प्राप्त की है।कईवर्षों तक महाविद्यालय के रसायन विभाग के एच ओ डी के पद पर कार्यरत रही। कविताएँ लिखने का बचपन से ही शौक रहा है।मेरी स्वरचित रचनाएं 200 से भी अधिक प्रतिष्ठित राष्ट्रीय व राज्यीय समाचार पत्र... Read more

Share with friends

Submitted on 01 Jul, 2020 at 05:30 AM

सूर्य जैसे व्यक्तित्व की चाह हो। लेकिन चांद सा उतार-चढ़ाव भी स्वीकार हो। डाॅ शैलजा एन भट्टड़

Submitted on 10 Feb, 2020 at 10:17 AM

बन जाते हैं सफेद, मिलकर सारे रंग I हो जब हम सब, एक दूसरे के संग I

Submitted on 06 Jan, 2020 at 10:20 AM

अच्छाई की कोई सीमा नहीं । बुराई का कोई अंत नहीं। फिर भी सपने पूरे होते हैं । क्योंकि सच्चाई के दामन में बढ़ते और सँवरते हैं।

Submitted on 17 Dec, 2019 at 08:28 AM

विचारों से अमीर सदैव अमीर रहता है। धन से अमीर धूप छांव में रहता है।

Submitted on 10 Dec, 2019 at 11:56 AM

जरूरत मन में भय उत्पन्न करती है I भय आपको खुद से दूर ले जाता है I तब स्वाभिमान सम्मान सब अर्थहीन हो जाता हैI

Submitted on 10 Dec, 2019 at 11:54 AM

समाज जैसा बनाना चाहते हैं । अगर उस पर ध्यान केंद्रित कर आगे बढ़े , तो बुराइयां खुद-ब-खुद विलुप्त हो जाती हैं ।

Submitted on 07 Dec, 2019 at 08:11 AM

कर्म का प्रयास जारी रखने पर, हर प्रयास आपको परिष्कृत करता है । मंजिल जितनी दूर हो , उतना अधिक प्रयास आपको उच्च कोटि का बना देता है । चिरकाल तक आपके अस्तित्व की लौ जलाए रखता है।

Submitted on 20 Nov, 2019 at 06:56 AM

इतने महत्वाकांक्षी भी न बन जाओ कि, हर रिश्ते में मकसद खोजने लगो ।

Submitted on 20 Nov, 2019 at 06:55 AM

कुछ लोगहर प्रश्न पर जवाब ढूंढते हैं। हम तो मौन रहकर ही जवाब दे जाते हैं ।

Submitted on 07 Nov, 2019 at 04:39 AM

अहम् व वहम् दोनों ही अच्छे नहीं । एक के आने से उन्नति रूकती है। और दूसरे से अशांति फैलती है ।

Submitted on 22 Oct, 2019 at 14:45 PM

मिसाल बनो, कामयाब बनो, कुछ ऐसा काम करो कि , ना भूत पर पछताना पड़े, न भविष्य की चिंता में खुद को जलाना पड़े।

Submitted on 05 Oct, 2019 at 03:40 AM

आरंभ से अंत तक की यात्रा ही काम को अंजाम देती है और मन को समाधान भी I

Submitted on 06 Jul, 2019 at 03:22 AM

Only willingness is required to do something not age

Submitted on 03 Jul, 2019 at 12:05 PM

Happiness is not a makeup coating on face but it generate within oneself by doing character building

Submitted on 03 Jul, 2019 at 11:58 AM

HAPPY FACE GIVES LIFE TO MILLIONS

Submitted on 03 Jul, 2019 at 02:51 AM

HOME IS ANOTHER NAME FOR FAMILY LIVING WITH LUV AND CARE.AND MAINTAINING BONDING IN EVERY SITUATION.

Submitted on 02 Jul, 2019 at 12:41 PM

HOME IS NOT DEFINED BY FOUR WALLS BUT WITH LUV AND CARE.

Submitted on 02 Jul, 2019 at 12:37 PM

ANYWHERE YOU CAN BUILD A HOME BUT NOT HOUSE

Submitted on 29 Jun, 2019 at 02:21 AM

यादों का बोझ बनना यानी जिंदगी का गर्त में जाना। यादों के सहारे जीना यानी वर्तमान को नकारना । यादों को याद कर मुस्काना यानी जिंदगी जीना।।

Submitted on 28 Jun, 2019 at 16:30 PM

जिंदगी राह है उनके लिए जो रुक-रुक कर जिए। जिंदगी मंजिल है उनके लिए जो हंस हंस कर जिए।


Feed

Library

Write

Notification

Profile