@qldyf5os

Dr.Purnima Rai
Literary Colonel
121
Posts
118
Followers
0
Following

M.A ,Ph.D( Hindi),B.Ed Writer, professor,Singer, Editor Work for Humanity,

Share with friends
Earned badges
See all

Submitted on 27 Apr, 2021 at 10:33 AM

मेरे पापा को मेरी उम्र भी लग जाये ए खुदा। उनकी परवरिश का मोल हो जायेगा यूं अदा।। यही करती हूं दुआ वो जुग-जुग साल तक जियें, घने इस वृक्ष की छाया हमें मिलती रहे सदा।। Dr.Purnima Rai

Submitted on 27 Apr, 2021 at 10:28 AM

बहुत दर्द होता है जब अपना कोई बिछड़ता है हर पल दिल ये रोता है वक्त भी न गुजरता है Dr.Purnima Rai

Submitted on 09 Oct, 2020 at 17:04 PM

जग जननी के प्यार से,बनते वीर महान देता पक्षी हंस जग, नीर-क्षीर का ज्ञान औरों की सुख कामना,करते हैं जो लोग बसते हैं जन मन सदा,पाते हैं सम्मान।। @Dr.Purnima Rai

Submitted on 01 Oct, 2020 at 17:50 PM

विश्व तिरंगा लहराऊँगी मैं भारत की नारी हूँ। हर पल आगे बढ़ती जाऊँ नहीं रही बेचारी हूँ।। चट्टानों सा जिगरा मेरा दुश्मन थर-थर काँप रहा; कर्म धर्म से भाग्य बनाऊँ नहीं किस्मत से हारी हूँ।। @Dr.Purnima Rai

Submitted on 01 Oct, 2020 at 17:43 PM

कांट-छांट कर लिख दिये दो लफ्ज मैनें लोग मुझे कलमकार समझ बैठे @Dr.Purnima Rai

Submitted on 27 Sep, 2020 at 12:29 PM

खामोश सा बैठा सोचता हूं ए खुदा! मुझे कभी बड़ा मत करना क्योंकि बड़े होकर छोटे होने का हुनर अक्सर लोग भूल जाते हैं @Dr.Purnima Rai

Submitted on 27 Sep, 2020 at 12:26 PM

असूल बदलो चाहे जज्बात आ ही जाते हैं याद चले जाने वाले @Dr.Purnima Rai

Submitted on 27 Sep, 2020 at 12:24 PM

बेटी बचाएं समाज परिष्कृत करें बेटी पढ़ायें देश सुसंस्कृत करें @Dr.Purnima Rai

Submitted on 27 Sep, 2020 at 12:22 PM

कार्य में सफलता ही मिले, जरूरी नहीं जरूरी है कार्य के लिए किया गया आपका तुच्छ प्रयास!! @Dr.Purnima Rai


Feed

Library

Write

Notification

Profile