@bjiokptw

Dr Lakshman Jha "Parimal"Author of the Year 2021
Literary Colonel
AUTHOR OF THE YEAR 2021 - NOMINEE

656
Posts
221
Followers
0
Following

फिजिसियन

Share with friends
Earned badges
See all

हँसाने केलिए हँसना पड़ता है रुलाने के लिए रोना पड़ता है खुशियाँ हासिल करने केलिए सबों के साथ रहना पड़ता है@परिमल

खोने का किसको है गम मेरे दोस्त ,आपकी उपलब्धियाँ को ही देखते हैं ! आप जो इतिहास बना रहे हैं यहाँ ,उसको ही हम शुभकामना देते हैं !!परिमल

फिर निकट में हमारी दुधारू गाय के बछड़े का भी सालगिरहआना है !आपको अपनी कविताओं को गढ़ -गढ़के मंगलगान सुनना है !!परिमल

कभी -कभी निशब्द रातों में नक्षत्रों ,तारों और चाँद से बातें भी करता हूँ सुना है मैंने भी किसी से मुरादें सबकी पूरी होती हैं !@परिमल

नयी कविता ,नया लेख बीते हुए लम्हों का संस्मरण और कहानियाँ अपनी कलम से लिखता हूँ मैं विचारों को अपनी कृतियाँ बनाकर कोरे कागज पर लिखकर अपनी मन की बातें लोगों तक पहुँचाता हूँ!@परिमल

वो दिन तो लद गए जब मित्रता के धागों में आपसी समझदारी... ,सहयोग...... ,गोपनीयता .....और....... मिलन के समिश्रणों का मांझा लगाये जाते थे और लटाई में इस तरह लपेट कर सुरक्षित रखे जाते थे कि मजाल है कि कोई हमारे पतंग को 'भाकाटा "कर दे !@Dr Lakshman Jha Parimal

हमें यह देखना होगा कि कहीं ये फेसबुक से तो नहीं जुड़े हैं ?..खामखाह ..उनके व्हात्सप्प पर ...मैसेंजर पर उधार के पोस्टों को चिपकाते रहते हैं ..हो सकता है आप उसे उत्कृष्ट समझ रहे हों ..पर वे तो कहीं और उलझे पड़े हैं !...इसी तरह गूगल के अन्य विधाओं का हाल है जिसे बारीकिओं सोचना ...समझना ..और ....कार्यान्वन करना हमारा प्रथम कर्त्तव्य है तभी हम निखर पाएंगे और तभी हमारी मित्रता अक्षुण रहेगी !@परिमल

फेसबूक और इंस्टाग्राम मुझे प्यारा लगे ! व्हाट्सप्प और मैसेंजर से हम दूर रहे !!@परिमल

यदि कुछ स्वयं लिखते हैं तो व्हाट्सप्प पर स्वीकार है अन्यथा उधार के पोस्टों को भेजना मेरे लिए बेकार है !@परिमल


Feed

Library

Write

Notification
Profile