@6ycoloaw

Neelam Arora
Literary Colonel
24
Posts
43
Followers
3
Following

I'm Neelam and I love to read StoryMirror contents.

Share with friends
Earned badges
See all

Submitted on 10 Jul, 2019 at 16:32 PM

खर्ची में मिला था दो दिन का रुपया! मैं यादों का मेला खरीद लाया! चार आने की स्वप्न निद्रा, चार आने में खेला खाया ! चार आने में मीत मिले, चार आने में तुमको पाया!

Submitted on 25 Jun, 2019 at 09:46 AM

ज़िन्दगी कुछ इस तरह बसर हुई,, कोई कसर भी ना रही मगर मुकम्मल भी ना हुई!!!!

Submitted on 24 Jun, 2019 at 14:43 PM

"इश्क़" ज़िन्दगी की पगडंडियों पर पांव छिलते हैं, कांटों का क्या गिला करता ! किसी साहिर के इश्क़ में दीवानी हर अमृता को, इमरोज़ नहीं मिला करता !!


Feed

Library

Write

Notification
Profile