@upxvsj55

Uma Vaishnav
Literary Captain
101
Posts
71
Followers
1
Following

I am writer

Share with friends
Earned badges
See all

Submitted on 30 Sep, 2020 at 16:43 PM

कुछ तो गुमान चाँद को भी होगा, आखिर करोड़ों की नजर जो उस पर टिकी है, हम तो यूँही बदनाम हुए हैं, ये बैरी चाँद भी कुछ कम नहीं।

Submitted on 07 Mar, 2020 at 02:27 AM

न्याय का पथ नहीं आसान, रहना पड़ता तब सावधान, जब सच भी झूठ बन जाये, देना होगा सभी.. का ध्यान उमा वैष्णव

Submitted on 02 Mar, 2020 at 02:41 AM

भीड़ चाहे कितनी भी हो, हम अपनों को ढूंढ ही लेते हैं। Uma vaishnav

Submitted on 13 Feb, 2020 at 19:02 PM

जीना हैं तो, गुलाब बनकर जीयो, जो कांटों के बीच भी, अपनी खुशबू फैलाता है Uma vaishnav

Submitted on 22 Jan, 2020 at 17:04 PM

शिक्षक एक पेड,के समान हैं जिसकी जड़े ज्ञान और, फल उसके विद्यार्थी होते हैं

Submitted on 12 Jan, 2020 at 19:08 PM

किताबी शिक्षा तब तक याद रहेगी, जब तक आप पढ़ते रहेगें, किन्तु कुछ सीखा हुआ, आजीवन आपको याद रहेगा।

Submitted on 12 Jan, 2020 at 18:58 PM

सिर्फ किताबें पढ़ने से सफलता हासिल नहीं होती, अगर कुछ बनाना है, तो सीखने पर जोर डालो।

Submitted on 08 Jan, 2020 at 18:32 PM

पैसा हो या समय सोच समझ कर ही खर्च करना चाहिये


Feed

Library

Write

Notification

Profile