Anu Gangwal
Literary Colonel
25
Posts
8
Followers
0
Following

मेरा नाम अनुगंगवाल है दिल्ली विश्वविद्यालय से एम ए और ट्रांसलेशन कर चुकी हूँ।साहित्य में विशेष रुचि है। विभिन्न पत्र पत्रिकाओं तथा वेबसाइट पर मेरी रचनाए प्रकाशित हो गयी है काव्य समितियों में आमंत्रित कवि गण के रूप में अपनी मौजूदगी दर्ज की है फ्रीलांसर राइटर, एडिटर, प्रूफरीडर तथा ट्रांसलेटर का... Read more

Share with friends
Earned badges
See all

हँस कर मिल लेते है सबसे मगर अब , किसी की खातिर दिल बेक़रार नही होता है मुश्किल वक्त देख लिया है इन आँखों ने खुद से ज्यादा किसी का एतबार नही होता है! ~Anu Gangwal

सबको तो बस मेरी खुबिया पसंद थी!! पर उसको मेरी बदतमीजियों से भी प्यार था!! ~Anu Gangwal

वो पल भी क्या खूब होगा जब मंज़िल होगी पास सफर भी होगा खास वो पल आनंददायक होगा ©अनु गंगवाल

उठो नारी आगे बढ़ो समाज के बंधनों में बंध कर मत रहो गलत को गलत सही को सही कहने का साहस करो आसमान में उड़ो आगे बढ़ो। ©अनुगंगवाल

गज़ल लिखो शायरी लिखो या लिखो कोई गीत नया तुम्हारी तो कातिलाना है हर अदा।

जैसे हर घटना का नाता उसमे घटित लोगो और संसार मे व्याप्त हर एक प्राणी का है वैसा ही नाता मेरा तुमसे और हर उस क्षण से है जिस पल मैंने तुमसे प्रेम किया था ©anugangwal

जितना लूट सकते हों लूट लो इन किताबों में इतना ख़ज़ाना है ये ताउम्र तुम्हे गरीब नही होने देगा। ©anugangwal

जितना लूट सकते हों लूट लो इन किताबों में इतना ख़ज़ाना है ये ताउम्र तुम्हे गरीब नही होने देगा। ©anugangwal

जितना लूट सकते हों लूट लो इन किताबों में इतना ख़ज़ाना है ये ताउम्र तुम्हे गरीब नही होने देगा। ©anugangwal


Feed

Library

Write

Notification
Profile