@d6agk70q

Mahendra Kumar Pradhan
Literary Colonel
358
Posts
27
Followers
29
Following

Teacher. Literary work is my first choice

Share with friends
Earned badges
See all

Submitted on 07 Sep, 2020 at 11:46 AM

आनंद कहीं मिलता नहीं खोजकर या खरीदकर आनंद तो मिलता है अश्कों को पीकर मुस्कुराने से ।

Submitted on 07 Sep, 2020 at 11:46 AM

आनंद कहीं मिलता नहीं खोजकर या खरीदकर आनंद तो मिलता है अश्कों को पीकर मुस्कुराने से ।

Submitted on 07 Sep, 2020 at 11:37 AM

एक सकारात्मक विचार व्यक्ति को प्रेरित करती है नैसर्गिक सुख शांति प्राप्ति के लिए परन्तु नकारात्मक विचार जीवन में आग लगा देती है ।

Submitted on 07 Sep, 2020 at 11:37 AM

एक सकारात्मक विचार व्यक्ति को प्रेरित करती है नैसर्गिक सुख शांति प्राप्ति के लिए परन्तु नकारात्मक विचार जीवन में आग लगा देती है ।

Submitted on 07 Sep, 2020 at 11:37 AM

एक सकारात्मक विचार व्यक्ति को प्रेरित करती है नैसर्गिक सुख शांति प्राप्ति के लिए परन्तु नकारात्मक विचार जीवन में आग लगा देती है ।

Submitted on 07 Sep, 2020 at 11:37 AM

एक सकारात्मक विचार व्यक्ति को प्रेरित करती है नैसर्गिक सुख शांति प्राप्ति के लिए परन्तु नकारात्मक विचार जीवन में आग लगा देती है ।

Submitted on 07 Sep, 2020 at 10:22 AM

भावनाओं में जिनकी गंगा बहे उनकी मानवता संसार कहे प्रेम जीवन का सार है बाकी सब बेकार है ।

Submitted on 07 Sep, 2020 at 10:21 AM

खुशियों का ठिकाना न पाने में है न हासिल करने में , खुशियां तो एक एहसास है जो बिछड़े हुओं को भी मिलता है बस स्मरण करने में । जैसे राधा को मिला जैसे मीरा को मिला

Submitted on 06 Sep, 2020 at 16:18 PM

चरणों की धूल में जिनकी चंदन की सुवास मिले वो कोई और नहीं मां ही हो सकती है ।


Feed

Library

Write

Notification
Profile