Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,



Amit Kumar

  Literary Colonel

धुंधली-सी ज़िन्दगी

Drama

तेज़ रफ़्तार से, दौड़ते इस शहर में, मैं खुद से भी आगे, चला जा रहा हूँ।

1    14.2K 10