Profile image of Dayal Sharan
D
Profile image of  Dayal Sharan

Dayal Sharan Shrivastava 

Professionally a banker but my sole is for literature, music & tasty food.

अनवरत

Inspirational Others

'कुछ वक्त के, हालात हैं, बेचैन से, बेताब से, बेखौफ हो, आगे बढो, सबल बनो, निर्बल नहीं।' एक योध्धा हर जित की परवा नहीं करता।

read more

1 min   128 13

अपेक्षा

Others

'तुम तो बादल हो छाते हो, तो उम्मीद सी ले आते हो, धरा बेसुध है, पेड़ सूखे हैं, उन्हें नव-जीवन देते क्यूं नहीं।' बादल बरसों पानी

read more

1 min   133 9

अस्पृश्यता

Action Drama Inspirational

उलाहने देने लगे हैं हाँ तुम जननी हो पर अब मै दुधमुहा नहीं हूँ।

read more

1 min   415 11

उजास

Drama Inspirational

हो सके तो रिश्तों में, नई उजास जगाओ तो सही...!

read more

1 min   51 3

एकाकी

Tragedy

अकेले होने का एहसास।

read more

1 min   139 7

कागजी विकास

Others

और उन सारे दिखावटी शानोशौकत को ताश के महल सा सच की हवा से ढहा जाता है दिवास्वप्न सा।

read more

1 min   148 2

कैफियत

Drama Inspirational

फिर लिखने बैठे हैं, इक नई कैफियत, यह सोच लिया है कि वे, जमाने का चलन जान जायेंगे...!

read more

1 min   24 2

खबरें

Drama Tragedy

अब तो बदलो वतन की झूठी कसमे खाने वालों यह जो बाजार है यहाँ जरूरी सामान बिकने दो।

read more

1 min   57 5

खिडकी

Others

'बिखरती चंपा-चमेली की खुशबू से नहाती खिडकी पता है लौटके ना आयेगा फिर भी कोई टोटका खिड़की।' घर की खिड़की एक खास जगह ।

read more

1 min   97 9

खुद्दारी

Drama

मकसदों में खुद्दारी की खनक बहुत जरूरी है

read more

1 min   48 3

छोर

Drama

कलम दवात की, स्याही से ज्यादा कहाँ चलती है हदें तय हैं, दो छोरों की दूरी तय कर रहे हो।

read more

1 min   2 0

जिन्दगी और हम

Drama Inspirational

मुस्कुराएँ, गम को उगले जो बेहतर हो वही बोले मौन की भी अपनी जुब़ा है वर्ना जिन्दगी जीने नहीं देगी।।

read more

1 min   98 5

जुडाव

Inspirational

'बदला मौसम, सर्द रातों ने, ओढ ली रूई की चादर, तेरी खातिर मै न बदला, दोस्त, बुरा हूं तो बुरा हूं।' दोस्तों के लिए जान कुर्बा।

read more

1 min   31 2

जुड़ाव

Drama Fantasy

धीरे-धीरे शाम ढलेगी जिन्दगी भी उसी तरह खुद को सिमेट लेगी

read more

1 min   87 5

ठीकरा

Drama

अपनी गलतियों को न दोहराने की शिक्षा देती कविता।

read more

1 min   31 2

त्यौहार

Drama Others

मंजिलें दूर कितनी भी हों, रास्तों को पता है कि आ रहा हूँ मैं।

read more

1 min   196 5

दशहरा

Drama Inspirational

अपनों के, सम्मान का अपमान, ना हो तो, शुभ दशहरा है...!

read more

1 min   258 2

नव वर्ष

Drama Inspirational

घर घर खुशहाली हो ज्ञान की अलख जले हर मन भाव में।

read more

1 min   71 4

निर्वाह

Inspirational Romance

'वक्त रेत सा है फिसला तो फिसलता जाएगा मुट्ठियाँ बाँध लें यह रिश्ता है फिसलने ना दीजे।' जीवन को प्यार से से गुजरा करना चाहिए।

read more

1 min   257 11

परिंदों की उड़ान

Inspirational Others

'बुलंदी आसमान का तारा तो बना देती है जमीं पे रहके यह अहसास जज्ब रक्खा है।' एकता में ही बल होता है, जो साथ है वही बुलंद है।

read more

1 min   239 4

पहचान

Drama

हम भी इक जिस्म के इक रूह के मालिक हैं और फिलहाल बखूबी ज़िंदा हैं।

read more

1 min   60 7

बंटवारा

Drama

वो तो सूरज है हम सब, उसके नूर बन जाए तो अच्छा...!

read more

1 min   70 5

बेताल

Drama Inspirational

खुद मुस्कुराओ ज़रा हमे भी ऐसा एक मौक़ा दे दो।

read more

1 min   77 4

मर्म

Others

शिक्षा होती तो साक्षर करती, ज्ञान होता तो पंडित गढ़ता, मगर तुम मर्म हो, जो साक्षर को, ज्ञान और जिन्दगी को पहचान दे गए।

read more

1 min   169 9

माहौल

Others

'खरीदें खूब, जब तलक जेब हो भारी, मगर यह रिश्ते हैं बेमोल, ऐ खरीददार आप शहर में हैं।

read more

1 min   37 5

रंग

Drama

जिंदगी कट जाती है, रूह को जिस्म में घर करते-करते...!

read more

1 min   271 0

रिश्तों से परे

Others

यह उत्कर्ष है संबंधों में संवादों का यह तत्सम है

read more

1 min   74 4

वक्त

Inspirational Others

'कागजों में लिखकर, कब तलक संभालेंगे, शाम शबाब पे है, नई नज्म गुनगुना दीजे।' रिश्ते बनाना आसान है, निभाना मुश्किल है।

read more

1 min   224 8

विरासत

Drama Inspirational

बेफिक्र तितलियाँ पकड़ते रहिये क्यारियों में खिला हर फूल आपको सौंपा।

read more

1 min   6 1

संजीदा

Drama Others

रसोई से उठती है जिस रोज खुशबुओं की गमक, जीभ भी जायका सोचती है और त्यौहार बना देती है।

read more

1 min   48 3

संवाद

Drama Inspirational

फिर बातें बेपनाह खर्च करने की याकि बेहिसाब जोड़ने की जब कोई हाथ बढाये सहारे को तो सिर्फ दिल की सुना कीजे।

read more

1 min   30 4

संवाद परिधि

Inspirational Others

'बहुत आसान है फलसफा जिन्दगी का, मशहूर हों, पर पाँव, जमी पर रहे कि आप शहर में हैं।' शहर की भीडभाड में आबाद रहने की सिख।

read more

1 min   100 7

संसर्ग

Drama

चलो कि आज और आगे साथ चलने का प्रण कर लें

read more

1 min   4 1

समझ

Others

'समन्दर के गहरे में, पानी वही है, इसे खारा कहना, उसे मीठा कहना।' एक गर्भित अर्थ को समाये हुए सुंदर कविता।

read more

1 min   335 6

समझ

Others

'है अमावस तो थोड़ा इंतज़ार सही मौसम है बदलेगा थोड़ा इंतज़ार कीजे।' मौसम एक सा हमेशा नहीं रहेता, वो बदलता जरुर है "

read more

1 min   10 1

सहज

Inspirational Others

'शहद से मीठे रस में भीगे, नभ से बूँद बरसने दो, सावन ने दस्तक तो दी है, धरा को उपवन होने दो।' प्रकृति है तो मानव संस्कृति है

read more

1 min   92 7

सावन

Others Romance

सानिध्य के आगमन का स्वागत एक प्रेयसी बनकर करने और अपनी भावनाओं का इजहार करने में प्रेरक माध्यमों का चुनाव कविता में है।

read more

1 min   42 3

सोच

Inspirational

बेवजह फिर मशरिफ -मगरिब की बातें फिर से बे-अदबी, खलिश, बेसबब-सी जिद। रिश्ते निभाना भी इक इबादत है....

read more

1 min   149 3

स्व-मूल्यांकन

Drama Inspirational

गहराइयों से, बदन से, समन्दर बहुत विशाल सही, गला सूखे तो, दो घूँट पीने का पानी भी, कहीं रक्खा करो...!

read more

1 min   68 4

स्वाद

Others

'मुनासिब नहीं हर वक्त तेरी पहरेदारी, ऐ शहर, ऐ तेरे दोस्त हर बलाओं से मंसूब रक्खें।' शहरी जीवन की कविता।

read more

1 min   347 8

सफ़र

Others

रोशनी देख के फिर अँधेरे में जीना ऐ ज़िन्दगी बहुत लंबा सफ़र है।

read more

1 min   25 1

हादसा

Inspirational

वो जो रोज देहरी पे आपकी बाँट जोहते हैं उनकी खातिर हादसों से जरा फासला बना कर चलिए।

read more

1 min   4 0

हार से जीत

Drama Inspirational

मुकाबले जीतिए, ना जीते तो, हौसला रखिये...!

read more

1 min   91 5

हिदायत

Inspirational

अपने घर आप खुदा हैं तो बने रहिये, तसव्वुर में ही सही, कोई ख़याल बनाए रहिये।

read more

1 min   55 5

होली

Drama

यह जो सूना हो चुका है घर का आँगन उसकी थाती पे जऱा सा खुशियों को जीवन दें संदली उबटन कर दें।

read more

1 min   30 3