Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
आकाश में एक दृश्य
आकाश में एक दृश्य
★★★★★

© Rahul Rajesh

Others Inspirational

1 Minutes   13.7K    7


Content Ranking

पूर्णिमा की रात में

स्लेटी आकाश में

बदरी कुछ इस तरह पसरी है

मानो एक बहुत बड़ी मछली पड़ी है

 

सुनहला चाँद जड़ा है जिसपर

बनकर बड़ी-सी आँख

 

बादल के नन्हे-नन्हे कतरे

मछली की त्वचा पर

चाँदी के चोंयटे बन सजे हैं

 

मुँह और पूँछ भी

 

बादल ही बने हैं!

#poetry #hindipoetry

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..