Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
द्वेष का कारण?  कर्ता या हम?
द्वेष का कारण? कर्ता या हम?
★★★★★

© Mohit Yadav

Comedy

1 Minutes   13.2K    5


Content Ranking

आज पुराने हिसाब खोल रहा हूँ,
मन के लफ़्ज़ों से बोल रहा हूँ...


बंटवारे के नाम पर ज़मीन दी,
खुशियों के नाम पर वहम|                                               मन की दूरियों का सोचा नहीं,
क्यों न किया तूने रहम ?

मेरा ही तो भाई था वो...
आज खंजर लिए खड़ा क्यों है?
एक-दूसरे के लिए जीते थे कभी,
आज मुझे चीरने को अड़ा क्यों है?

कमीं कहीं मुझ में ही तो न थी
और मैं तुझको दोष दे रहा हूँ|
या फिर गलती तेरी ही थी,
मैं तो यूँ हीं बोझ ले रहा हूँ|

जवाब तो चाहिए ही आज दे चाहे कल.
खुशियाँ ही तो माँग रहा हूँ,
खुशियाँ ही केवल|
इतना भी न दे सके तो,
किस काम का तेरा बल?
हे कर्ता! दे दे मुझे, दे दे मेरा फल . ..
बाँट दूँगा उसको सब में, 
हो जाउँगा निर्मल...

बँटवारा हिन्दुस्तान - पाकिस्तान ईश्वर से जवाब भाइयों में द्वेष

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..