Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
बेटी
बेटी
★★★★★

© Rajit ram Ranjan

Drama Inspirational

1 Minutes   14.2K    8


Content Ranking

माता पिता का कहना माने बेटी,

बोले ना बातें झूठी,

सहेली बनाए अच्छी-अच्छी,

जो रास्ते दिखाए सच्ची-सच्ची ।


घर बासन बाद में राशन,

पढ़ने भी जाए ऐसा हो शासन,

माता-पिता का डर हो अंदर,

जुनून हो पार करने का समंदर ।


फैशन ना कभी दिखाना,

अपने लिबास को ना भूल जाना,

बड़े छोटो का आदर सम्मान,

न करना किसी का अपमान ।


जुबाँ से ना बोले कड़वी बातें,

भाती है सबको अच्छी बातें,

बेटी पढ़े आगे बढ़े,

एक साथ दो फूल खिले ।


माँ से भी अलग होना,

अपना घर खोना,

दो-दो सपने सजोना,

दो बातें सुनकर लेना,

मरने का नाम ना जुबा पे लेना ।


यह करते हैं बेबस,

और कमजोर तुझको,

हिम्मती समझना,

सुख-दुख एक साथ सहना ।


यह जिंदगी ही एक जीत है,

हार तो ये डर है,

डर को निकाल सको,

अपने अंदर से बेटी,

तुझसे सृजन होगा,

नाम तेरा फिर माँ होगा ।


माँ की अहमियत भूल ना जाना,

अपने बच्चों को खुद के जैसा बनाना,

बुरी संगति से उसे बचाना,

उससे भी जग का उजियारा करवाना ।

Poem Girl Daughter

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..