Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
रंग सिंदूरी
रंग सिंदूरी
★★★★★

© Himani Sabharwal

Drama

1 Minutes   1.2K    10


Content Ranking

भूलना आसान नहीं,

ज़रूरी है,

देर से ही सही,

समझ आ रहा है।


वो जो तलवार की,

मयान था,

धार नुकीली हो गया,

अजीब बावफा है।


न छूटे,

न छूटने दें,

हमारे ही लहु से,

सिंदूरी हुआ जा रहा है।

Poem Colour Vermilion

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..