Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
किसान कहता है
किसान कहता है
★★★★★

© Ravi Verma

Drama Others

1 Minutes   14.3K    4


Content Ranking

मुद्दे की बात से,

मुद्दा भटका देता है,

मेरे देश का नेता,

बे-बात ही रो देता है ।


मेरी जमीन को माँ,

और मुझे भाई बना लेता है,

वो वोट के बहाने,

मेरा जिस्म काट लेता है ।


संसद में वो मेरे हक की,

लड़ाई लड़ता है,

मुआवजे की माँग पर,

वो मुझे गोली मार देता है ।


कितना मजबूर कर दिया,

मुझे मर जाने के लिए,

मेरी आत्मा बेच दी,

उसने अपनी कुर्सी बचाने के लिए ।

Poem Politics Farmer Suicide

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..