Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
छोटा सा एक घर अपना
छोटा सा एक घर अपना
★★★★★

© Naveen Kumar

Abstract

1 Minutes   521    13


Content Ranking

मुन्नी बिटिया दिखा रही ,

पापा से गुल्लक अपना।

काश दिवाली में हो जाए,

छोटा सा एक घर अपना ।


अपने घर में कोई नहीं,

हम सब पे रौब जमाएगा

ना मकान मालिक मम्मी से,

कभी किराया माँगेगा ।।


अपनी मर्जी से हम सब,

अपने घर में रह पाएँगे ।

जन्मदिन की पार्टी भी,

दोस्तों के साथ मनाएँगे ।।


मुन्नी बिटिया की बातों से,

पापा थे बस, स्तब्ध खड़े ।

मुन्नी को बाँहों में भरकर,

बस चूम लिए दो नैन भरे ।।

घर बेटी गुल्लक

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..