Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
 एहसास होगा तुझे
एहसास होगा तुझे
★★★★★

© Raman Sharma

Others

1 Minutes   1.3K    0


Content Ranking

 

बहुत खुश था मैं जब मैंने तुझे जिन्दगी में चाहा ----
गमों की तो कोई खबर ही नहीं थी मुझे यहां
*
बहुत सोचा कैसे करूँ मैं तुमसे इजहार- ए- इश्क ----
डर महसूस होता था कहीं कर ना दे तू मना
*
रोका मैनें तुझे यूँ इस तरह चलते राह में --
करेगी क्या दोस्ती मुझसे सुरीली आवाज में कहा
*
कर दिया इनकार तूने भी मुझे मेरी होने से --
आया होगा शायद मजा तुझे तोड़ा जब दिल मेरा
*
कहा तूने मुझसे रहूँगी जिन्दगी में अकेली सदा ---
नहीं करूंगी दोस्ती के लिये किसी लड़के को हाँ ,
*
बक्त के अनुसार तूने भी बता दी अपनी औकात मुझे ---
जब मेरी आँखों ने तुझे किसी लड़के के साथ देखा
*
बहुत मजाक उडाती है तू मेरा पता चला तेरी सहेली से--
होगा तुझे भी एहसास मेरे प्यार का तब जी भरकर रोना
*
बक्त गुजर जायेगा और यादें पीछे रह जायेगीं --
फिर ये पागल आशिक रमन कभी नहीं बनेगा तेरा

---- रमन शर्मा ।

 

raman sharma

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..