Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
मोम
मोम
★★★★★

© Rashi Singh

Inspirational

1 Minutes   1.4K    13


Content Ranking

मैं मोम की ही बनी हूँ,

टूटती नहीं पिघलती हूँ,

मैं मुस्कानो से ही सजी हूँ ,

रोती नहीं भीतर सुबकती हूँ ,

न जाने कितने रिश्तो में बंधी हूँ,

तोड़ती नहीं खुद ही टूटती हूँ,

हकीकत हूँ ,पहेली मैं नही हूँ ,

समझा न कोई सभी को समझती हूँ ,

मन है घायल फूलों सी खिली हूँ,

सहती हूँ हर दर्दो -ग़म रोती नहीं हूँ,

औरत मोम संघर्ष

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..