Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
समझता है जो दुनिया को
समझता है जो दुनिया को
★★★★★

© Shashi Mehra

Inspirational

1 Minutes   6.9K    6


Content Ranking

समझता है जो दुनिया को, उसे इन्सान कहते हैं । 
जो बहकाने से न बहके, उसे ईमान कहते हैं ।। 
कोई जिस तक नहीं पहुँचा उसे भगवान कहते हैं ।
बुराई को जो उकसाये उसे शैतान कहते हैं ।। 
ज़मीं पर चार दिन है आदमी, मेहमान कहते हैं ।
हमीं हम हैं, ज़माने में, फ़क़त नादान कहते हैं ।।
सफ़र साँसों का तय करना, अगर लगने लगे आसाँ ।
करिश्मा है ये वो जिसको, ख़ुदा की शान कहते हैं ।।
तवक्को से कहीं ज्यादा, ‘शशि’ वो सबको देता है ।
जो पूरे हो नहीं सकते, उन्हें अरमान कहते हैं ।।

दुनिया ईमान इंसान नादान

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..