Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
 याद
याद
★★★★★

© Raman Sharma

Others

1 Minutes   948    0


Content Ranking

कहाँ है उनको वक़्त हमें याद करने के लिये ,
हम तो कुछ भी नहीं हैं उनके लिये

तमाम उम्र गुज़ार दी मैनें जिसके ख़याल में ,
वो किसी और के संग तैयार हैं उड़ान के लिये

वक़्त निकलता रहा और वो भी बदलते रहे ,
बस उसने दर्द ही बचाकर रखा था मेरे लिये

ख़ुशियों ने भी छोड़ दिया साथ मेरा ,
बस गम ही थे ज़िन्दगी में मेरे लिये

----- रमन शर्मा ।

raman sharma

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..