Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
वही शिकवा -- शिकायत; वही गि़ला होगा ।
वही शिकवा -- शिकायत; वही गि़ला होगा ।
★★★★★

© Anupam Tripathi

Romance

1 Minutes   13.5K    11


Content Ranking

वही शिकवा -- शिकायत; वही गि़ला होगा 

 

वही शिकवा -- शिकायत;
वही गि़ला होगा ।
जुदा इससे नहीं उसने;
कुछ लिखा होगा।।

बडे जतन से सहेजे हैं ;
हमने ख़्वाब वो सूखे ।
इक तेरा ख़्वाब भी ;
उनमें कहीं धरा होगा।।

वो मिला जब भी मुझे;
कुछ बुझा-बुझा सा मिला।
चराग याद का ;
उसने बुझा लिया होगा।।

ये आईने ! हरदम तो ;
मुँह चिढा़ते नहीं ।
बेवजह उसने कोई ;
आईना तोड़ा होगा।।

इक लहर याद की ;
अक्सर मुझे भिगोती है।
उसे भी तुमने ही;
मेरा पता दिया होगा।।

मैं ; बेहया हूँ ,बे-शऊर
-- बेशरम ही सही ।
इसी बहाने मेरा ;
नाम तो लिया होगा।।

लो ; पत्थरों की बस्ती में ;
सन्नाटा खिंच गया ।
अक्स तेरा "अनुपम";
फिर ; उसे दिखा होगा।।
********-----**********

ANUPAM TRIPATHI HINDI POETRY POEM GAZAL ROMANCE LOVE

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..