Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
करो न आहट
करो न आहट
★★★★★

© Meenakshi Sukumaran

Others

1 Minutes   20.6K    7


Content Ranking

 

करो न आहट धड़कनों

टुकड़े दिल के जुड़ रहे हैं

करो न आहट आहों

बहते आँसू सूख रहे हैं 

करो न आरज़ू कोई

बिखरा अक्स बन रहा है

करो न फरियाद कोई

होगा न कोई मोल तेरा

साँसे छुटने से पहले

है अदा यही ज़िन्दगी की

खोने के बाद ही चीज़

बेशक़ीमती हो जाती है

       ऐ दिल सँभल जा 

       नए दर्द ने दी है दस्तक फिर है

        ऐ पलकों सँभल जाओ

        थामना होगा आँसुओं को फिर ||

~~~~ मीनाक्षी सुकुमारन ~~~~      

 

दिल टुकड़े आहट

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..