Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
महकती -सी मेरी ज़िंदगी
महकती -सी मेरी ज़िंदगी
★★★★★

© Shailaja Bhattad

Drama

1 Minutes   7.0K    8


Content Ranking

नदी-सी कल-कल,

बहती है मेरी जिंदगी।

हर ठोकर पर उठती है ,

मेरी जिंदगी।

शैस्ता ,शीरीन बनकर ,

फ़िरदौस को कदमों तले,

लाती है मेरी ज़िंदगी।

आशा के दिए जलाकर ,

मन को परव़ाज़ दिलाती है मेरी ज़िंदगी।

हर पल को पल-पल में ,

जीती है मेरी जिंदगी।

स्नेह, सहानुभूति से ,

अदा में रहती है मेरी ज़िंदगी।

सुलझी-सी,गुलाबों-सी,

महकती है मेरी ज़िंदगी।।


Life Happiness Peace

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..