Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
अहसास - ए - मुहब्बत
अहसास - ए - मुहब्बत
★★★★★

© Gulab Jain

Drama Romance

1 Minutes   14.3K    29


Content Ranking

अपने दिल पे मेरा इख़्तियार नहीं

कैसे कह दूँ कि तुमसे प्यार नहीं

जब तलक देख न लूं सूरत तेरी

इस नादान दिल को क़रार नहीं !


दुश्वार हो गया है जीना तेरे बग़ैर

तेरे सिवा मेरा कोई ग़म - गुसार नहीं

तुम साथ हो तो ख़िज़ाँ भी बहार है

वरना ये बहार भी बहार नहीं !


दिल में तुम हो

तो दिल ये ज़िंदा है,

अपनी धड़कन पे

ऐतबार नहीं !

Love Feelings Emotions

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..