Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
ग़र मोहब्बत...
ग़र मोहब्बत...
★★★★★

© Vinay Kumar

Others

1 Minutes   1.3K    5


Content Ranking

ग़र मोहब्बत सिर्फ दर्द भरे नैना,

तेरी मेरी ज़िंदगी न होती

तुझे बेगानों सी मुझे दीवानों सी

ग़र मोहब्बत न होती

तय है लिखा क़िस्मत लेकिन

ख़बर न तुझे है न मुझे कुछ

यूँ भी बेक़रारी न होती

जुदाई जो तेरी मेरी आदत न होती

न ठिठुरती बाहें न लब कंपकपाते

बिन सर्द मौसम कभी

महसूस सिहरन न होती

जो तेरी आमद

मेरी रूखसती न होती

ग़र मोहब्बत नहीं होती

Love मोहब्बत

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..