Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
रुके ना तू झुके ना तू…
रुके ना तू झुके ना तू…
★★★★★

© Madhvi Mahajan

Inspirational Others

1 Minutes   13.3K    2


Content Ranking

रुके ना तू झुके ना तू,

बन जा आंधी, कि फिर थमे ना तू |

मन में ज्वाला जलने दे,

सपनो की नगरी बसने दे |

हुई जो भूल तो माफी मांग,

ले चल साथ हाथ तू थाम |

यह राह है कांटो भरी,

हिम्मत ना हार, है मुश्किल घड़ी |

सिसक सिसक के आह भर,

आज तो कुछ ऐसा कर गुजर |

देखे जहान देखे जमाना,

कुछ कार्य ऐसा कर दिखाना |

चींटी से सीख तू आगे बढना,

वृक्षों से सीख तू छांव देना |

हिमालय की चोटी सा चमक,

सूरज की किरनों सा दमक |

गंगा के जैसा बन पवित्र,

दिखा दे अपना तू चरित्र |

बुलंद आवाज अपनी कर दिखाना,

जग को अंधेरे से तुझे है बचाना |

गुनाह की दुनिया से निकल,

कुछ कर गुजर कुछ कर गुजर |

बन जा शिव, दुर्गा या चण्डी,

पापीयों ने की है अब दुनिया ये गंदी |

आगे देख बस चलता जा,

बन के तूफान तू बढता जा |

रुके ना तू झुके ना तू,

 बन जा आंधी, कि फिर थमे ना तू |

मन में ज्वाला जलने दे,

सपनो की नगरी बसने दे |

हुई जो भूल तो माफी मांग,

ले चल साथ हाथ तू थाम |

motivation walk courage determination spirit hindi poetry

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..