Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
जमाने की न जाने , ये कैसी बयार
जमाने की न जाने , ये कैसी बयार
★★★★★

© Tarkesh Kumar Ojha

Drama

1 Minutes   1.1K    4


Content Ranking

जमाने की न जाने , ये कैसी बयार है

नेपथ्य में नायक, मगर खलनायकों की बहार है

नाम से ज्यादा बदनामी की पूछ

बजता डंका जोरदार है

नेक माने जा रहे बेवकूफ

धूर्त - बेईमानों की जय - जयकार है

अग्निपथ पर चलने वाले संघर्षशील कहला रहे बोरिंग

हिस्ट्रीशीटरों की बहार ही बहार है

न जाने कहां रुकेगा ये सिलसिला

सोच कर भी मचता दिल में हाहाकार है !

World Society Double face

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..